shabd-logo

सीता अपहरण------

10 July 2023

20 Viewed 20
 नाक कटवाकर कुरूप बनी शूर्पणखा अपने भाई रावण के पास पहूंची और उसे अपना दुखड़ा सुनाया। रावण मारीच के पास गया।वह मायावी मृग बनकर राम की कुटिया के पास घूमने लगा। सीता ने राम को उसे पकड़ लाने को कहा।राम ने तुरंत उसका पीछा किया और फिर तीर चला दिया। मारीच ने छल करते हुए राम की आवाज में " हे लक्ष्मण! है सीते! कहकर पुकारा। सीता ने लक्ष्मण से अपने भाई की रक्षा करने को कहा। लक्ष्मण ने सीता को समझाया कि राम अजेय हैं। उन्हें कोई मार नहीं सकता। लेकिन सीता भला क्यों मानती,वे डर गई थी।तब लक्ष्मण ने कुटिया के चारों ओर एक रेखा खींची और सीता को सावधान किया कि वे उसे न लांघें।ऐसा कहकर लक्ष्मण उधर चले गए जिधर से आवाज आई थी।                                                 ,                      लक्ष्मण के वहां से जाते हीं लंकापति रावण एक ब्राह्मण का वेश धारण करके वहां आया और उस रेखा के बाहर खड़े होकर भिक्षा मांगने लगा। अपने द्वार पर एक ब्राह्मण को देखकर सीता ने रावण को भिक्षा देना चाहा।इसपर रावण ने कहा कि वह रेखा से बाहर आकर भिक्षा दे तभी वह उसे स्वीकार करेगा।                     ,                       सीता ने अपना 'अतिथि-धर्म ' निबाहते हुए रेखा से बाहर आकर उसे भिक्षा देनी चाही। तभी रावण ने बलपूर्वक सीता का बांह पकड़ कर उसे अपने पुष्पक विमान पर बैठाकर चल दिया।रावण के बल के आगे सीता विवश हो गई।

More Books by सिक्किम की यादें

1

सीता अपहरण------

10 July 2023
0
0
0

नाक कटवाकर कुरूप बनी शूर्पणखा अपने भाई रावण के पास पहूंची और उसे अपना दुखड़ा सुनाया। रावण मारीच के पास गया।वह मायावी मृग बनकर राम की कुटिया के पास घूमने लगा। सीता ने राम को उसे पकड़ लाने को कहा।

2

बडी- बड़ी शादियां रिसोर्ट में,एक दिखावा

18 December 2023
0
0
0

~ *रिसोर्ट मे विवाह* एक नई सामाजिक बीमारी,कुछ समय पहले तक शहर के अंदर मैरिज हॉल मैं शादियाँ होने की परंपरा चली परंतु वह दौर भी अब समाप्ति की ओर है!अब शहर से दूर महंगे रिसोर्ट में शादियाँ

3

यूं हीं रात बस गुज़र न जाए कहीं

29 December 2023
0
0
0

यूं हीं रात बस गुज़र न जाए कहीं कुछ तो दिल की बातें कर लोबस कई , पिछले रातों के सपने कीगुजरे पल के पल- पल कीकुछ यूं हीं आम या कुछ खास बातें कर लो... तो सही यूं हीं रात बस गुज़र न जाए क

4

कहीं, यूं हीं रात बस गुज़र न जाए...

1 February 2024
0
0
0

यूं हीं रात बस गुज़र न जाए कहीं कुछ तो दिल की बातें कर लोबस कई , पिछले रातों के सपने कीगुजरे पल के पल- पल कीकुछ यूं हीं आम या कुछ खास बातें कर लो... तो सही यूं हीं रात बस गुज़र न जाए क

5

जटायु से श्रीराम प्रभु की भेंट

25 February 2024
0
0
0

सीता को खोजते - खोजते राम एवं लक्ष्मण वहां पहुंचे जहां जटायु घायल पड़ा हुआ था। जटायु की पुकार पर राम जटायु के पास पहुंचे तो जटायु ने रावण द्वारा सीता अपहरण का समाचार राम को दिया।राम ने जटायु जी

6

शबरी से श्रीराम प्रभु - तथा भाई लक्ष्मण से भेंट

26 February 2024
0
0
0

श्रीराम जी सीता मैया की खोज में वन- वन भटकते हुए आगे बढ़ने लगे।एक वन में कबंध नामक राक्षस रहता था। पूर्व जन्म में वह एक गंधर्व था। परन्तु दुर्वासा ऋषि के शाप से उसे राक्षस योनि प्राप्त हुई थी। र

---