shabd-logo

दैनिक न्यूज

3 February 2023

32 Viewed 32



सिकटी प्रखंड में शिक्षा विभाग के निर्देशों का पालन नहीं किया जाता है। शिक्षा विभाग के निर्देशों को सिकटी प्रखंड में शिक्षक व अधिकारियों द्वारा बराबर ठेंगा दिखाया जाता है। शिक्षा विभाग ने सिकटी के बीईओ को निर्देश दिया कि जिन विद्यालयों में वरीय व नियमित शिक्षक है वहां पर प्रधानाध्यापक से कनीय शिक्षक को हटा कर वरीय व नियमित शिक्षक को प्रधानाध्यापक का प्रभार दिया जाए। लेकिन शिक्षा विभाग का यह निर्देश का सिकटी प्रखंड में न तो शिक्षक पालन कर रहे हैं और न ही यहां का बीईओ । प्रखंड में लगभग डेढ़ दर्जन ऐसे विद्यालय हैं जहां पर वरीय व नियमित शिक्षक के रहते हुये कनीय शिक्षक प्रधानाध्यापक के प्रभार में है। शिक्षा विभाग द्वारा निर्देश निर्गत कर कनीय शिक्षकों को विद्यालय का प्रभार वरीय शिक्षकों को देने का निर्देश दिया गया है। इसके बाद भी डेढ़ दर्जन से अधिक विद्यालयों में एचएम के पद पर जमे कनीय शिक्षक विद्यालय का प्रभार वरीय शिक्षक को नहीं दिया है। प्रभार नहीं देने वाले कनीय शिक्षकों एवं प्रभार नही लेने वाले वरीय शिक्षकों पर कार्रवाई को वरीय पदाधिकारियों को पत्र भेजने को सूची बनाने का निर्देश भी जारी किया गया है।


सिकटी प्रखंड के बीआरसी कार्यालय के आंकड़ों के मुताबिक सिकटी प्रखंड के मवि पडरिया पठान टोला, मवि सालगुडी, मवि कचना, मवि भुतहा, मवि सैदाबाद, मवि भपटिया, मवि बोकंतरी, उमवि उमेश मुखिया टोला, मवि बेलबाडी, मवि पडरिया, मवि पनभिजुआ, मवि भवानीपुर, मवि बारूदह व मवि डैनिया सहित आदि विद्यालयों में वरीय व नियमित शिक्षक के रहते हुये कनीय शिक्षक प्रधानाध्यापक के प्रभार में है। इस संबंध में बीईओ से संपर्क का प्रयास विफल रहा।

1
Articles
दैनिक न्यूज 📰
0.0
जनरल अवेयरनेसl